Hindi Lyrics

कोयलड़ी बोली जी सावण KOYALADI BOLI JI SAVAN RI RUT AAYI LYRICS

KOYALADI BOLI JI SAVAN RI RUT AAYI LYRICS

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

रुत आई संग प्रीत लाइ,

रुत आई संग प्रीत लाइ,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

बागा माही घाल्या हींडो ओ म्हारा भरतार

चालो ढोला म्हारे सागे झूला दोनों लाए,

चालो ढोला म्हारे सागे झूला दोनों लाए,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

साथ री सहेलियां सारी झूला झूलण आई

सावणए रा गीत गावे बिरखा झिरमिर आई,

सावणए रा गीत गावे बिरखा झिरमिर आई,

सावणए रा गीत गावे बिरखा झिरमिर आई,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

मीठा बोले मोरिया गावे है प्रीत रा गीत

म्हे हां थारी छैल छबीली थे मनड़े रा मीत,

म्हे हां थारी छैल छबीली थे मनड़े रा मीत,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

रुत आई संग प्रीत लाइ, रुत आई संग प्रीत लाइ,

कोयलड़ी बोली जी सावण री रुत आई,

Also Read  बजरिया मजेदार बन्ना सोदा तू कर ले BAJARIYA MAJEDAR BANNA LYRICS

Leave a Comment